Male Infertility

Aliquam in elit vel eros tincidunt pulvinar sit amet

Male Infertility Problem Tretment Dr. Anil Gaikwad Surat

Inability to conceive the baby is called infertility which is now becoming a serious problem. Usually, female is held responsible for such problem but infertility may be found in men also. There can be too many reasons forcing the human towards infertility like hormonal imbalance, reduction in sperm count, obesity, consumption of drugs & alcohols, unhealthy eating habits, bad lifestyles, masturbation habits and testicular injuries. People having humiliated and depressed life may find infertility as the common problem. Infertility not only affects the human mind but also affects the married life while creating tensions in both lives.


DR.ANIL GAIKWAD is also known as the

  • treating infertility issues through therapy and medication. Dr. Anil gaikwad have all the modern equipment and medicines which are result oriented. One need to go through the surgical treatment, they may get the right treatment through natural remedies and can be successful fathers. We make sure to offer 100% herbal medicines made from natural ingredients. We ensure faster and safe recovery through continuous treatment and proper diets. People may visit the clinic personally or may request for online consultation who are feeling shy to visit the doctor or who are far away.

  • Infertility is the difficult yet curable problem. One should not feel helpless or should not hassle for the treatment. Just relax, wait and have the right treatment. Stressful treatment will not bring positive effects. The combination of timely counseling, medication will boost the sperm count. The doctor may suggest some physical activities and healthy diet to boost the sperm count which a part of healthy treatment is. Share your lifestyle and get quick consultation boosting the fertility power.

  • We make sure not to share the personal information of the patients to anyone. So why to delay the things when happiness knocking at your door. Rather welcome the new life with warm hugs & smiles through successful treatment being offered at Dr.anil gaikwad.

Male Infertility in Hindi

(बाँझपन का कारण और इलाज ) , बाँझपन जिसे कई लोग बन्ध्यापन तथा अनुर्वरता के नाम से भी जानते हैं | किसी भी युवक और युवती के लिए बाँझपन किसी अभिश्राप से कम नहीं होता | अमुमन हमारे समाज में बाँझपन की समस्या को महिलाओ से जोड़कर देखा जाता रहा हैं लेकिन यह अवधारणा बिल्कुल ही गलत हैं क्यूंकि एक बच्चे को जन्म देने में जितनी अहम भूमिका स्त्री की होती हैं उतनी ही सामान भागिदारी पुरुष की भी होती हैं | इसलिए बाँझपन के लिए सिर्फ स्त्री को जिम्मेवार ठहराना बिल्कुल ही गलत हैं |

बाँझपन की समस्या दो प्रकार की होतीं हैं – प्राकृतिक और अप्राकृतिक, अगर किसी महिला या पुरुष में बाँझपन की समस्या बचपन से यानि कुदरती है तो उस समस्या को प्राकृतिक बाँझपन समझा जाता हैं | इनफर्टिलिटी मुख्यतय दो तरह से होती है। पहली जन्मजात जिसे 'बन्ध्या' बांझपन से जाना जाता है। और दूसरी 'मृतवत्सा वन्ध्या' से जाना जाता है, जिसमें पहला बच्चा होने पर दूसरा बच्चा नही होता। परन्तु आईवीएफ एवं कृत्रिम गर्भाधान उपचार के माध्यम से दोनो तरह के इनफर्टिलिटी का उपचार सम्भव है। बांझपन से जुड़े कुछ अहम सवाल जैसे की

  • बाँझपन | बन्ध्यापन क्या हैं ?

    अगर कोई कपल गर्भनिरोधक और कंडोम के इस्तेमाल के बिना कम से कम एक साल या इससे भी अधिक समय तक शारीरिक सम्बन्ध बना रहे हो और उसके बाद भी संतान सुख से वंचित रह रहे हो तो उन महिला या पुरुष दोनों में से किसी एक के साथ infertility (बाँझपन) की समस्या हो सकती है | बांझपन एक बीमारी है, कोई अभिशाप नहीं । इसका इलाज अन्य बिमारियों की तरह संभव होता है ।

  • बाँझपन के क्या कारण हैं ?

    पुरुषों में Infertility की समस्या कई कारणों से हो सकता हैं जैसे की वैरीकोसेल (अंडकोषों से रक्त ले जाने वाली रक्तवाहिनी में सूजन आ जाती है, तब वैरीकोसेल होता है। इससे अंडकोषों में पर्याप्त मात्रा में रक्तप्रवाह नहीं हो पाता), प्रजनन क्षमता में कमी, शुक्राणु का कम या नहीं होना है, कभी-कभी शुक्राणु का कमजोर होना या अंडों तक पहुंचने से पहले ही निष्क्रिय हो जाना,अंडकोषों पर गंभीर चोट भी शुक्राणुओं के स्तर को नुकसान पहुंचाती है, शुक्राणुओं के उत्पादन पर गर्मी का बुरा असर पड़ता है, इसलिए अधिक देर तक गर्म तापमान में न रहे, बहुत अधिक तनाव, थकान और अल्कोहल का सेवन भी कामेच्छा पर नकारात्मक असर डालते हैं।

  • बाँझपन के क्या लक्षण हैं ?

    ★ लिंग (Men's Penis) में उत्तेजना न आना
    ★ उत्तेजना आने के बाद जल्दी शांत हो जाना
    ★ वीर्य जल्दी स्खलित हो जाना
    ★ कामेच्छा की कमी
    ★ संभोग करने के दौरान या करने से पहले घबराहट होना
    ★ वीर्य की कमी अथवा पतला होना